विद्या के जनकपुर विवाह पंचमी तांडव नृत्य के बाद

विद्या के जनकपुर विवाह पंचमी तांडव नृत्य के बाद जिन मधेसियोंको अधिकार से मतलब नहीं था या अभी भी कोई खास नहीं हैं वो भी अब जग गए हैं, कि ये तो अकल्पनीय अनर्थ हो गया। ये क्या हो गया? जनकपुर सारे मधेसकी राजधानी है पुर्व से पश्चिम तक। राजनीतिक और सांस्कृतिक राजधानी।

सारे देशका ८०% राजस्व संकलन वीरगंज में होती है तो सारे देशकी राजधानी वीरगंज क्यों नहीं हो सकती? अब सोंचने का समय आ गया है।


Comments

Popular posts from this blog

फोरम र राजपा बीच एकीकरण: किन र कसरी?

नेपालभित्र समानता को संभावना देखिएन, मधेस अलग देश बन्छ अब

फोरम, राजपा र स्वराजी को एकीकरण मैं छ मधेसको उद्धार