काठमाण्डु को १००% नाकाबंदी गर्न हाम्रा रिश्तेदार काफी छन: KKKK

बोर्डर पारि को एउटा बुहारी अथवा एउटा जवाईं नभएको एउटा मधेसी परिवार छैन। त्यो बोर्डर पारि बिहेबारी भएको होइन कि आदिकाल देखि बिहेबारी हुने गरेको ठाउँ मा ब्रिटिश र राणा ले बड़ो अप्राकृतिक बोर्डर राखिदिएको हो। उल्लु कुरा। त्यो बोर्डर गायब पार्नु मधेस को सक्रिय राजनीतिक एजेंडा हो। त्यस का लागि पहिला हामी काठमाण्डु को लोकतान्त्रिक कब्ज़ा गर्छौं। गरे पछि भारत सँग नेपालको राजनीतिक र आर्थिक एकीकरण गर्छौं। त्यो हाम्रो घोषित एजेंडा हो।

भारत आजाद हुवा, मधेस उपनिवेश का उपनिवेश रह गया। अब ज्यादा दिन नहीं। नागरिकता, समानता, संघीयता, समावेशीता ये सब तो पुराना मुद्दा है। हम अब समृद्धि और सशक्तिकरण का बात सोंच रहे हैं। समृद्धि भी विश्व स्टैण्डर्ड की समृद्धि। उसके लिए हम मधेसी काठमाण्डु कब्ज़ा करने के बाद जलविद्युत का विकास करेंगे। कहने वाले खानी खानी कह रहे हैं। हम खानी भी खोदेंगे। हम मधेसी भारतवर्ष को विश्व शक्ति बनाने की बात सोंच रहे हैं। उस अंतर्गत नेपाल भी आ जाती है। पृथ्वी नारायण ने नेपाल को "सच्चा हिन्दुस्तान" कहा, सही कहा।

वैसे मधेसी नेता लोग पटना, लखनऊ, दिल्ली,कलकत्ता सब जगह पहुँच रहे हैं और पहुंचना भी चाहिए। हम मधेसी के रिश्तेदार ही तो ममता, नीतिश, अखिलेश, मोदी सबको कुर्सी पर बिठाते हैं। लेकिन बात ममता, नीतिश, अखिलेश, मोदी तक पहुंचना जरुरी नहीं। बॉर्डर के उधर जो हमारे रिश्तेदार बैठे हैं वो काफी हैं काठमाण्डु का शत प्रतिशत नाकाबंदी करने  के लिए।

काठमाण्डु को १००% नाकाबंदी गर्न हाम्रा रिश्तेदार काफी छन। २०० वर्ष उपनिवेश बनाएर राख्यो। अब हामी तिमी माथि शासन गर्ने। सिट्ठी मान्छे हरु। Counter Colonization. Kathmandu Capture. KKKK.

भारतका २४० ट्रिलियन डॉलर वाला अर्थतंत्र बनने का फोर्मुला इजराइल के पास है

KKKK का फोर्मुला है संगठित हो जाओ, शिक्षित हो जाओ। अपने भारतीय जातीयता को गले लगाओ और उस पर सक्रीय रूपसे गर्व करो। अपने बॉर्डर के उधर के लोगों से भरपुर सहयोग लो। मुँह खोल के मांगो।

दो हप्ते के अंदर मधेस से काँग्रेस और एमाले के संगठन को पुर्ण रूपसे ध्वस्त किया जा सकता है कि नहीं? ग्वांजें ओली, भेजा नभाको मान्छे, गधा, उल्लु, grasshopper --- जो मधेस से टकराएगा वो चुर चुर हो जाएगा। बाजे, प्रधान मंत्री बन्न पुर्पुरो मा लेखेर आउनुपर्छ। तिम्रो पुर्पुरो मा नै लेखेको छैन, हामीले के गर्ने?













Comments