स्वतःस्फूर्त संगठन, Bottom Up संगठन



Top Down संगठन होता है, प्रवास में नेता पैदा होता है, वो पार्टी खड़ा करने की सोंचता है, केंद्रीय समिति बनता है, लोगों को भेजता है, जिल्ला जाओ जिल्ला जाओ। नेपाल में अब तक वैसा होता आया है।

हम Bottom Up संगठन की बात कर रहे हैं। आम जनता वार्ड लेवल पर मिलते हैं। क्रांति के समय, संविधान सभा के चुनाव होने से पहले, प्रत्येक शनिवार को मिलते हैं। चुनाव करते हैं, Open Caucus के आधार पर, चुनाव कराने में एक भी पैसा खर्च नहीं होता। प्रयास रहे की इस शनिवार को जितने लोग आए, अगले शनिवार को उससे ज्यादा आने चाहिए।
वार्ड अध्यक्ष लोग उसी तरह मिल के गाउँ/शहर अध्यक्ष चुनेंगे। Open Caucus. गाउँ/शहर के लोग मासिक मिलेंगे, जिल्ला स्तर का संगठन बनावेंगे। जिल्ला से केंद्र। Electoral College सिस्टम रहेगा। जिस जिले में जितना ज्यादा सदस्य उस जिले का वजन केंद्र में उतना ही। प्रयास करो, पाँच लाख सदस्य दो।

मधेस स्वराज पार्टी के संस्थापक अध्यक्ष सीके राउत हैं। लेकिन चुनाव से पहले महाधिवेशन होगा। वहाँ पार्टी अध्यक्ष पद के लिए भी Open Caucus के आधार पर चुनाव होगा।

क्रांति का सबसे अहं हिस्सा ये संगठन है। हमें तीन बाहुन दल मुक्त मधेश चाहिए। तीन बाहुन दल मुक्त मधेश दो, आजादी लो।

मधेस स्वराज पार्टी का १००% केंद्रीय पदाधिकारी निर्वाचित रहेगा। ५१% खुला प्रतिस्प्रधा, ४९% आरक्षण, दलित, मुसलमान, महिला, अल्पसंख्यक। केंद्रीय समिति के प्रत्येक बैठक के minutes सार्वजनिक किए जायेंगे। आय व्यय का हिसाबकिताब १००% पारदर्शी रहेगा।

पुर्ण आन्तरिक लोकतन्त्रका सस्ता तरिका




Comments

Popular posts from this blog

फोरम र राजपा बीच एकीकरण: किन र कसरी?

नेपालभित्र समानता को संभावना देखिएन, मधेस अलग देश बन्छ अब

फोरम, राजपा र स्वराजी को एकीकरण मैं छ मधेसको उद्धार