मोदी के प्रति मधेश के जनता में एक क्रेज है



मैंने अपने जीवन कालमें अभी तक नहीं देखा ऐसा --- भारतके किसी प्रधान मंत्री के प्रति मधेसी जनता का ये जो मैं क्रेज देख रहा हुँ।

क्रेज तो अमिताभ बच्चन के प्रति भी है, तो आप ban करिए नेपालमें हिन्दी फिल्मको। नहीं अगर आप अमिताभ बच्चन के पिक्चर को ban नहीं कर रहे हो तो फिर मोदीको आम सभामें बोल्ने क्यों नहीं दे रहे हो?

मोदी वो आदमी है जो नेपालमें भी और भारतमें भी, दोनों देशो में आर्थिक क्रान्ति करेगा। काम शुरू हो गया है।

मेरे जीवन कालमें नेपालके प्रत्येक राजा महाराजा, प्रत्येक प्रधान मंत्री, ऐरो गैरो नत्थु खैरो सभी नेताओं ने हाइड्रो हाइड्रो किया ---- लेकिन नेपालमें जल बिद्युतीय क्रान्ति करनेवाले सख्श मोदी निकले। अरे Thank You तो बोलो।

अरे Xi Jinping को तो नेपालका रास्ता भी मालुम नहीं है, तो वो आएगा कैसे?

मोदी अभी संसारके सबसे पॉपुलर पॉलिटिशियन बन चुके हैं ----- उनको संसार भरके लोग न्यौता पर न्यौता दे रहे हैं। सब जगह से बुलावा आ रहा है। संसारके कोने कोने से बुलावा आ रहा है। लेकिन उस मेहमानको वामदेवने बेइज्जत कर के रख दिया। वो वामदेव निकट भविष्यका कमल थापा ही है। वो भी नेपालके राजनीति से बस गायब होने वाला ही है। लोकतंत्रके मुद्दे पर कमल थापा जो भीलन था, संघीयता, समानता, समावेशीता, सामाजिक न्यायके मुद्दे पर वामदेव वही है। ये मोदीका अपमान करने वाला वामदेव नेपालके आर्थिक क्रान्तिका दुश्मन ही तो है। बाई बाई बोलो बाबा बामदेवको।

सुशील-वामदेव: खतरनाक कि निकम्मा?


Comments

Popular posts from this blog

फोरम र राजपा बीच एकीकरण: किन र कसरी?

नेपालभित्र समानता को संभावना देखिएन, मधेस अलग देश बन्छ अब

फोरम, राजपा र स्वराजी को एकीकरण मैं छ मधेसको उद्धार