क्रांति को माग पुरा गर, फ़ासिस्ट धम्की दिएर आफ्नो नाङ्गो चरित्र अझ नाङ्गो नपार

जनताको शान्तिपूर्ण ढंगले विरोध प्रदर्शन गर्ने अधिकार लाई कुठाराघात गर्ने प्रयासले नै मधेस आंदोलन लाई मितेरी पुलमा पुर्याएको हो। वार्ता भंग गर्न बारम्बार पुलिस एक्शन मा जाने ए केपी ओली, आगो सँग नखेल। को माफिया, को पार्टी कार्यकर्ता, को कालाबाजारी, को सुरक्षा निकाय --- सबै रेखा हरु धुमिल पार्दै लैजाने तिम्रो कर्म ले तिमीलाई रावण बनाउँछ। देशलाई १० खरब बढ़ी नोक्सान पुर्याएर आफ्नो गिरोहले १० अरब कमाउने तिम्रो व्यापार चाँडै बंद हुन्छ। पापका घड़ा फुटेगा तुम्हारा। तुम्हारे काले धन की जाँच पड़ताल होगी। होश में आ जाओ। नहीं तो इतिहास की आँधी बहुत तेज होती है। ज्वारभाटा की तरह निगल जाएगी तुम्हे। जुन सुरक्षा निकाय ले निरंकुश राजा लाई बचाउन सकेन त्यसको बढ़ी भर पर्ने मुर्खता नगर। निरंकुश नबन। राजनीतिक समस्या को राजनीतिक समाधान खोज। अर्को उपाय छैन। दुनिया को एउटा पनि शक्ति को तिमीलाई साथ छैन। किनभने तिमी असत्य को साथ छौ। समय मैं चेत होइन भने समयले नै तिमीलाई बढ़ारेर लान्छ। शक्ति को मुकुट कांडा को मुकुट हो। उन्माद ले घाउ दिन्छ। मधेसी जनताले एक व्यक्ति एक मत भन्दा बढ़ी केही मागेका छैनन्। त्यो लोकतंत्र को आधारभूत परिभाषा हो। जनता जनार्दन होती है। लोकतंत्र में शक्ति का दुसरा कोइ स्रोत नहीं।


Comments